मात्र 20 मिनट में अपनी सख्ती वापस पाई, खड़ा करने का झटपट तरीका

“मेरी सेक्स लाइफ बहुत जोश भरी हो गई है, और इसके लिए मैं इस प्रोडक्ट का आभारी हूँ। मैं अपनी बीवी के साथ अब हफ्ते में 3 बार 3 घंटे का जोरदार सेक्स कर लेता हूँ! और हम दोनों एक साथ ही झड़ते हैं!”

पहले मेरा लंड 5 साल से तो खड़ा ही नहीं हो पा रहा था। मेरी पत्नी खड़ा करने की भरसक कोशिश करती थी लेकिन पप्पू सोया ही रहता था! हमने हर तरह की जैली, कामसूत्र के कई आसन और काफी कुछ ट्राय किया लेकिन मेरे लिंग को खड़ा करना संभव न हो पाया। मैं बिस्तर पर सिर्फ सोने जाता था और अपनी बीवी को चोद ही नहीं पा रहा था। इससे मुझे बहुत मानसिक टेंशन रहने लगी थी और मैं दिल से कमजोर होता जा रहा था। मेरी बीवी भी मुझसे दुखी हो गई थी…

अरे, मैंने अपने बारे में तो बताया ही नहीं। मेरा नाम है संदेश मिश्रा। मैं 43 साल का हूँ, कानपुर का रहने वाला हूँ और सरकारी ऑफिस में एक क्लर्क हूँ।

और इतना परेशान होने के बाद अब मैंने ठान लिया था कि कुछ तो करना ही पड़ेगा। हम साथ में ब्लू फिल्में देखते थे और इंटरनेट पर सेक्स फोरम्स पर जाते थे जहाँ लोग अलग-अलग पोसिशन बताते थे, कई तरह की क्रीमों की सलाह दी जाती थी और कुछ लोग स्पेशल डाइट लेने को भए कहते थे। लेकिन आखिर में किसी भी चीज से मेरा मामू खड़ा नहीं हो पाया। हमने तो एक साईकोलॉजिस्ट को भी दिखा कर देख लिया था। लेकिन सब बेकार गया और मेरा लंड खड़ा नहीं हुआ, तो नहीं हुआ।

मैंने सोचा कि कहीं मेरी बीवी में तो कोई कमी नहीं है, और मैंने एक दो बार बाहर भी मुँह मारने की कोशिश की लेकिन खड़ा होता ही नहीं था = (मैंने ये दिखावा किया था कि मुझे बहुत ज़्यादा काम था और मुझे ऑफिस में लेट बैठना पड़ रहा था रहता था। घर जाने की जगह में 5000 रु देकर मसाज पार्लर में जाता था लेकिन फिर भी मेरा लंड सोया ही रहता था। इस सब में मेरा बहुत पैसा भी खर्च हो गया लेकिन लिंगम को कोई ताकत खड़ा करके सिंघम नहीं बना पाई।

आखिरकार मैंने हार मान ली, मैं अपने आप से और अपने लौड़े से नफ़रत सी करने लगा था। मुझे लगने लगा था कि अब मैं पूरा बुड्ढा हो गया हूँ और लाइफ में कभी सेक्स नहीं कर पाऊँगा। मुझे तो ये भी डर लगने लगा था कि कहीं मेरी बीवी बाहर मुँह न मारने लगे!

मेरी ज़िंदगी का निर्णायक मोड़

एक दिन हमारे ऑफिस में एक आदमी ट्रान्सफर होकर आया। वो बड़ा मज़ाकिया और जोशीला आदमी था। हम जल्दी ही दोस्त बन गए और मैंने उसे अपने लंड के खड़े न हो पाने की दुखभरी कहानी बताई। राजेश ने मुझे एक कैप्सूल ट्राय करने को कहा जो वो 2 साल से ले रहा था। ये दिखने में तो आम कैप्सूल की बॉटल की तरह ही थी , बिल्कुल वैसी जैसे सरदर्द की दवाई होती है। मैंने थोड़ी लीं जरूर लेकिन उम्मीद नहीं थी। उसने मुझे बताया कि रात को खाने के पहले ले लेना। काम से घर जाने के बाद मैंने वैसा ही किया जैसा उसने बताया था। और फिर… कुछ अजीब सी चीज होने लगी। जब मैं खाना खा ही रहा था कि मेरा लंड फूलना शुरू हो गया, वो बड़ा और बड़ा होते जा रहा था। अब वो सेक्स के लिए पूरा फड़फड़ा रहा था। मेरी बीवी ने भी ये देख लिया और तुरंत मुझे प्यार करने लगी। दो घंटे की चुदाई के बाद जब हम दोनों साथ में झड़े तो कसम से ऐसा मजा आया कि क्या बताऊँ।

अब मैं ये कैप्सूल हर बार सेक्स के पहले इस्तेमाल करता हूँ और मैं और मेरी बीवी बेहद खुश हैं)

हम हफ्ते में 7-10 बार तो ठोकते ही हैं ,और मेरा बहुत सारा मुट्ठ झड़ता है (ऐसी भाषा लिखने के लिए माफी चाहता हूँ लेकिन हम रात में बस प्यार नहीं करते बल्कि हर रात जबर्दस्त ठुकाई की रात होती है)।

और हाँ, मैं सबसे जरूरी चीज तो बताना भूल ही गया!

मैंने राजेश से पूछा कि ये कौन से कैप्सूल थे। इन्हें Hammer of Thor कहते हैं, और इनको ऑनलाइन ऑर्डर देकर मंगाना बड़ा आसान है। ये दो दिन में ही डेलीवर हो गए, मुझे कल ही मिले। ऑर्डर देने के पहले मैंने वेबसाइट पर इनके बारे में अच्छी तरह से पढ़ा। ये पूरी तरह से प्राकृतिक पदार्थों से बने हैं और यदि आप इनको 2 से 3 हफ्ते तक लेंगे तो इनका असर और भी अच्छा होता है। यदि आपका पूरी तरहा से ठीक से खड़ा होता है तब भी आप भविष्य में मेरी जैसी हालत होने से बचने के लिए इन्हें ले सकते हैं। जैसा आपने ऊपर पढ़ ही लिया होगा कि कैसे मेरा लिंग एकदम सुप्त ही रहता था। ये ज़्यादा मंहगे नहीं हैं और मैं ये भी नहीं कहूँगा कि बहुत सस्ते हैं। ये किसी अच्छे रैस्टौरेंट में दो कप कॉफी पीने की कीमत के बराबर ही हैं।

तो दोस्तों, यदि आपको भी पत्थर जैसी सख्ती चाहिए तो – खरीदें

Hammer of Thor

अब मैं दिन भर यही इंतज़ार करना रहता हूँ कि कब घर वापस जाकर अपनी बीवी को फिर से जोरदार चोद दूँ!

मैं उम्मीद करता हूँ कि मेरे अनुभव से कई लोगों को मदद मिलेगी! चलो फिर मिलते हैं!

Category:

Others