माँ के आशीर्वाद से फ़िल्मी सफर हुआ आसान: अभिनेत्री मुस्कान सय्यद

दोस्तों “दिल की बात-अजय शास्त्री के साथ” कार्यक्रम में आपका स्वागत है आज हम आपकी मुलाक़ात करवाने जा रहे हैं बॉलीवुड अभिनेत्री मुस्कान सय्यद से, जिन्होंने 2008 में फ़िल्मी दुनिया में पदार्पण किया था और आज फ़िल्मी दुनिया में अपनी एक ख़ास पहचान बनाये हुए हैं तो आइये जानते हैं बीसीआर यानि बॉलीवुड सिने रिपोर्टर के संपादक अजय शास्त्री जी से हुई बातचीत में उन्होंने क्या कहा:-IMG-20180522-WA0024
अजय शास्त्री: आप कहाँ से है और आपका नाम क्या हैं ?
मुस्कान सय्यद: मैं मुंबई से हूँ और मेरा नाम मुस्कान सय्यद हैं.
अजय शास्त्री: आप कब से फिल्मी दुनिया में काम कर रही हैं ?
मुस्कान सय्यद: मैं फ़िल्मी दुनिया में 2008 में कदम रखा था तभी से मैं कार्य कर रही हूँ.
अजय शास्त्री: सबसे पहले ब्रेक आपको कब और कैसे मिला ?
मुस्कान सय्यद: UTV प्रोडक्शन में मैंने सबसे पहले काम किया था, मगर वो भी एक इत्तेफ़ाक़ था ऐसे ही अचानक हम घूमने निकले थे, तो रास्तें में मालूम चला कि फिल्म “हुक या क्रूक” के ऑडिशन चल रहे है तो हम भी ऑडिशन देने चले गए मगर ऊपर वाले की दुआ हुई कि हमारा सेलेक्शन हो गया और इस तरह से हमारा फ़िल्मी सफर शुरू हो गया.
अजय शास्त्री: फिल्म में आपका सिलेक्शन होने पर, आपकी फॅमिली का रिएक्शन कैसा रहा ?
मुस्कान सय्यद: मुझे मेरे घर से किसी तरह सपोर्ट नहीं था क्योंकि मेरे पापा नहीं है, मैं नौकरी करके घर का खर्चा चलती थी, मगर फिल्म में सेलेक्शन होने पर मेरी माँ बहुत खुश हुई थी कि मेरी बेटी को जॉन अब्राहिम के साथ काम करने का मौका मिल रहा तो मम्मी ने कहा तूने फॅमिली के लिए बहुत कुछ किया है जा अब जी ले अपनी ज़िन्दगी. बस मम्मी के आशीर्वाद से मेरा फ़िल्मी सफर और भी आसान हो गया.
अजय शास्त्री: जैसे कि अब आपकी शादी हो गयी है तो आपके पति आपके साथ कैसा बर्ताव करते है ?
मुस्कान सय्यद: मेरे पति मुझे फुल सपोर्ट करते हैं, उनका सिर्फ ये ही कहना है कि अगर तुम्हारा मन फिल्म इंडस्ट्री में काम करने का हैं तो कीजिये क्योंकि आपकी इतने सालों की जो मेहनत है उसको ज़ाया मत कीजिये और अपने फ़िल्मी करियर को चालू रखिये.
अजय शास्त्री: अभी तक आप कितने प्रोडक्शन हाउस के साथ काम कर चुकी है ?
मुस्कान सय्यद: मैंने अभी तक़रीबन 10-12 से ज़्यादा प्रोडक्शन हाउस में काम कर किया है जैसे: विक्रम भट्ट, संजय लीला भंसाली, बालाजी टेलीफिल्म्स, सुनील लेहरी जी के साथ के अलावा अनेको प्रोडक्शन हाउस में मैं काम चुकी हूँ.
अजय शास्त्री: अभी तक आपने कौन-कौन सी फिल्मों में काम किया हैं ?
मुस्कान सय्यद: मैंने कई फिल्मों में काम किया हैं जैसे “हुक या क्रूक” जिसका निर्देशन डेविड धवन जी किया था, “माय फ्रेंड पिंटू” जिसका निर्देशन संजय लीला भंसाली जी ने किया था, मेरी लास्ट मूवी थी “हेट स्टोरी-2″ जिसके निर्माता विक्रम भट्ट और निर्देशक विशाल पंड्या थे इस तरह मैंने कई मूवी की है.

IMG-20180522-WA0030

अजय शास्त्री: हमने सुना हैं आपने फ़िल्मी दुनिया के साथ-साथ टीवी धारावाहिकोंमें भी काम किया है ?
मुस्कान सय्यद: जी हाँ, मैंने टीवी के लिए भी काम किया है मेरा पहला धारावाहिक था “तुम देना साथ मेरा” और दूसरा धारावाहिक था “सब गोलमाल है” तीसरा धारावाहिक स्वास्तिक पिक्चर का “माता की चौकी” और “नव्या” के बाद मैंने नीला टेलीफिल्म्स का “हमारी सास लीला” जो कलर्स टीवी पर प्रसारित हुआ था, इसके बाद मैंने बालाजी टेलीफिल्म्स का “पवित्र बंधन” और “चंद्र नंदनी’ और आर्ट वेव्स का “हैप्पी होम्स” जैसे धारावाहिकों में काम करके मुझे एक नयी पहचान मिली है.
अजय शास्त्री: आपको इस मुक़ाम तक पहुँचने में कितनी मुश्किलें आयी ?
मुस्कान सय्यद: देखिये, मुश्किलें कहाँ नहीं हैं ? हर क्षेत्र में मुश्किल हैं, मगर में ये जानती हूँ कि आप को अपना लक्ष्य हांसिल करना हैं तो आप कर सकते हैं बशर्ते आपका फोकस आपके काम पर होना चाहिए. इधर-उधर की फालतू बातों में नहीं.
अजय शास्त्री: आपके आने वाले कौन कौन से प्रोजेक्ट है ?
मुस्कान सय्यद: मेरे आने कई प्रोजेक्ट है जिनमे फिल्म और धारावाहिक दोनों हैं मगर मैं अभी आपको नहीं बता सकती क्योंकि ये सीक्रेट है मगर ये मेरा प्रॉमिस है जब आप मेरा दोबारा इंटरव्यू लेंगे तो मैं आपको जरूर बताउंगी.
अजय शास्त्री: हमने सुना है आपको बहुत जल्दी बीसीआर अचीवर्स अवार्ड 2018 से दिल्ली में नवाज़ा जा रहा है इसके बारे में आप क्या कहना चाहेंगे ?
मुस्कान सय्यद: मैं बहुत खुश हूँ और अजय शास्त्री जी का तहदिल शुक्रियादा करती हूँ कि मेरे अचीवमेंट के लिए मुझे “बीसीआर अचीवर्स अवार्ड 2018″ से नवाज़ा जा रहा है.
अजय शास्त्री: चलते-चलते आप अपने प्यारे दर्शकों से क्या कहना चाहेंगी ?
मुस्कान सय्यद: मैं अपने प्यारे दर्शकों से सिर्फ ये कहना चाहूंगी कि मुझे इसी तरह से प्यार और दुलार देते रहे क्योंकि मैं आज जो भी हूँ मैं अपने दर्शकों की वजह से ही हूँ, ये उनका प्यार ही तो है जो मैं आज इस मुक़ाम पर हूँ और आज मुझे “बीसीआर अचीवर्स अवार्ड 2018″ से नवाज़ा जा रहा है, मैं अपने सभी दर्शकों का तहदिल से धन्यवाद करती हूँ.