लाल बिहारी लाल के होली एवं लोक गीत हुए रिकार्ड

बीसीआर न्यूज़ (रचना शर्मा/नई दिल्ली): कवि, लेखक एंव पत्रकार तथा समाजसेवी लाल बिहारी लाल के तीन भोजपुरी लोक गीत हंस वाहिणी फिल्म (एच.वी.एस.) कंपनी द्वारा दिलीप दिलजले की आवाज में रिकार्डस हुआ है। पहले गीत के बोल है- बेटी के लाज बचाव मैया तथा दूसरे गीत के बोल है- बा पब्लिक के फऱमाइस औऱ तीसरा गीत है –ललमुनिया रे काहे धरेलू तु छाव ..। इसी कंपनी से हाल ही में रमायण सिंह राकेट की आवाज में तीन लोक गीत रिलीज हुआ है जिसेके बोल है माल देख हो, हट ना त धाका मारेब कस के….. और तीसरा दू गो पर दम धर। वही अनिता तालुकदार की आवाज में लाल बिहारी लाल का लिखा हुआ गीत आर.एन फिल्मस एंड मीडिया कंपनी के लिए सांवरिया और परदेसी-परदेसी गीत रिकार्ड हुआ है। होली गीत प्रज्ञा म्यूजिक कंपनी से धीरज कुमार एवं हेमा हैप्पी की आवाज में विराज स्टूडियों में कास्टिंग डायरेक्टर संजय राज एवं प्रज्ञा म्यूजिक के निर्देशक कुमार पंकज के देख रेख में रिकार्ड हुआ है और इस होली गीत का शूटिंग भी पी.कृष्णा के निर्देशन में संपन्न हुआ। इन सभी गीतो को इसी नाम से अलग-अलग यू. ट्यूब पर बहुत जल्द ही जारी किया जायेगा।

Lal Bihari Lal

लाल बिहारी लाल का पिछले दिनों कई छठ गीत रिलीज हुआ था। जिसमें स्वर दिया है लोक गायक दिलीप दिलजले,संध्या संगम, ज्योति ठाकुर ने। इससे पहले लाल बिहारी लाल दर्जनों कंपनियों के लिए दर्जनों गायक गायिकाओं के लिए सैकड़ों गीत लिख चुके हैं। इनके लिखे कई गीत नब्बे के दशक में काफी हिट हुए जो आज भी बाजारों में खूब चल रहे हैं। इनके लिखे हुए गीतों को गाने वालों में- तारा बानो फैजाबादी,शायरा बानो फैजावादी ,नरेन्द्र सागर, संजय प्रभाकर, रमायण सिंह राकेट, सरिता साज, शर्मिला पांडे, जयराम जुल्मी राज किशोर, कंचन प्रिया, रेखा रानी, संध्या संगम, हीरा पाठक, ज्योतिटाकुर वही हिंदी में इनके गीत मो. सफी कुरैसी, हेमाध्यानी आदि ने भी गाया है। इनकी भोजपुरी कविता-क्रांति बिहार के मगध ओपेन विश्वविद्यालय के एम ए और अंबेडकर बिहार विश्वविद्यालय के बी.ए. के पाठ्यक्रम में भी शामिल है। इन्हें भोजपुरी एवं हिंदी साहित्य सेवा के लिए कई सम्मान मिल चुके है। भोजपुरी भाषा पर इनके लिखे गीत गायक मनोज लहरी की आवाज में बहुत जल्द आ रहा है। जिसके कोरियोग्राफर है संजय रितुराज जो 21 फरवरी को जंतर मंतर पर विश्व मात़ृ भाषा दिवस के अवसर पर रिलीज होगा।