बालिका सुरक्षा आयोग एवं स्वर्ण आयोग का नहीं किया गठन तो होंगे उग्र आंदोलन: ज्ञानेश कुमार चौहान

बीसीआर न्यूज़ (अजय शास्त्री/ग़ाज़ियाबाद): हिंदुस्तान  उत्थान पार्टी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं द्वारा देश में लगातार बढ़ रही जातीय हिंसा एवं स्वर्ण आयोग के गठन की मांग को लेकर शांतिपूर्ण प्रदर्शन किया गया, जिसमें हिंदुस्तान उत्थान पार्टी द्वारा 6 सूत्रीय मांग पत्र जिलाधिकारी महोदय कार्यालय में दिया गया। जिसे मुख्यमन्त्री अदित्यनाथ योगी के कार्यालय लखनऊ भेजा जाना सुनिश्चित किया गया है।

Gyanesh

इस अवसर पर पार्टी ने अपना दूसरा स्थापना दिवस भी मनाया।

ये हैं मांगे:-
मांग 1- स्वर्ण आयोग का गठन कराने  की मांग – जिससे स्वर्ण भी बिना डरे अपने अधिकारों के हनन कि मांग को स्वर्ण आयोग में उठा सके !
मांग 2- जातिगत आरक्षण को तत्काल समाप्त कर आर्थिक आधार पर लागु हो आरक्षण – जिससे देश में अन्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोगो को भी मिल सके आरक्षण का लाभ और देश में फैली जातीय हिंसा पर काबू पाया जा सके !
मांग 3- बालिका सुरक्षा आयोग का गठन – महिला आयोग की तरह हो बालिका सुरक्षा आयोग का गठन जिससे बालिकाओ पर होने वाले अत्याचारों में कमी होगी और बालिकाओ के यौन सोसण में लिप्त पाए जाने पर पुरे देश में हो तत्काल फांसी की सजा का प्रावधान !
मांग 4- किसानो के किसी भी तरह के बकाया भुगतान को तत्काल किया जाये – जिससे किसान भी खुशहाल जीवन जी सके साथ ही साथ प्राकृतिक आपदा के समय किसानो के नुकसान का तत्काल आंकलन करके उन्हें उचित सहायता दी जाये जिससे किसानो द्वारा आत्महत्या के मामलो में कमी आएगी और किसान का परिवार भी सम्मान से जीवन यापन कर सकेगा !
मांग 5 - मध्यप्रदेश कि तरह उत्तर प्रदेश के पश्चिमी भाग में हो हाईकोर्ट बेंच का निर्माण – जिससे आम नागरिक न्याय पाने में सफल हो देखा गया है की उत्तर प्रदेश के पश्चिमी भाग से हाईकोर्ट की दुरी लगभग 750 किलोमीटर होने की वजह से आमजन को न्याय पाने में अश्मर्थ रहना पड़ता है !
मांग 6- पूरे देश में शिक्षा एवं चिकित्सा सरकारी खर्चे पर मुहैया कराये सरकार – जिससे शिक्षा एवं चिकित्सा के छेत्र में हो रही लूट बंद हो सके क्यूंकि शिक्षा एवं चिकित्सा हर भारतीय का मौलिक अधिकार है और प्राइवेट सेक्टर द्वारा मोटी रकम लेकर मुहैया कराई जा रही शिक्षा एवं चिकित्सा भारतीय के अधिकारों का हनन है !
प्रदर्शन में मुख्य रूप से हिंदुस्तान उत्थान पार्टी के संस्थापक राष्ट्रीय अध्क्षय ज्ञानेश कुमार चौहान राष्ट्रीय महासचिव ओमप्रकाश सिंह राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एडवोकेट संतोष प्रताप सिंह राष्ट्रीय सचिव कमल चौहान राष्ट्रीय महिला अध्क्षय अमृता राजपूत राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कृष्णा पांडेय प्रदेश अध्क्षय युवा मोर्चा मुकुल चौहान राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सुरेश शांडिल्य प्रदेश युवा अध्क्षय दिल्ली अंकुर दिवान सचिव हीरा नरूखा प्रदेश महिला उपाध्यक्ष प्रशन्ना सिंह, दिल्ली प्रदेश महासचिव गणेश कुमार, राष्ट्रीय सचिव अनिल कुमार झा, प्रिया  गुजराल एवं अन्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।
श्री चौहान ने सरकार को कहा कि  आगामी 19 अगस्त को हिंदुस्तान उत्थान पार्टी एवं उसके सहयोगी किसान / महिला / जातिगत आरक्षण विरोधी / स्वर्ण संघठन मिलकर उत्तर प्रदेश के लखनऊ में हजारों कार्यकर्ताओं के साथ विधान सभा के सामने अपनी इन्ही माँगो के साथ बड़ा आंदोलन शुरू करेंगे।
उन्होंने सरकार से आपसे अनुरोध किया कि जल्द से जल्द एक कमेटी का गठन कर मुख्य मांगों पर विचार विमर्श करे और हमे भी अवगत कराने का कष्ट करें। हम आपसे आशा ही नहीं, पूर्ण विश्वास है कि आप आमजन के लिए हमारे द्वारा दिए गए सुझावों (मांगों) पर जल्द कोई बड़ा एवं साहसिक कदम उठाएंगे और कुछ नेताओं व राजनैतिक पार्टियों द्वारा की जा रही जाति आधारित राजनीती का अंत करेंगे।