ईकोसिख ने गुरु नानक साहिब का 550वां प्रकाश पूर्ब मनाने के लिए विश्व-स्तर पर पेड़ लगाने की मुहीम शुरू की

बीसीआर न्यूज़ (अजय शास्त्री/नयी दिल्ली): 2019 में आने वाले गुरु नानक देव जी के 550 वें प्रकाश पूरब को सामने रखते हुए ईकोसिख संस्था द्वारा पूरी दुनियां में 1820 स्थानों पर 550 पेड़ लगाने के लिए प्रेस क्लब आफ इंडिया में “550 रुख्ख (पेड़) गुरु के नाम” मुहीम का आगाज़ किया गया ! संस्था द्वारा गुरु नानक देव जी के नाम पर पूरे विश्व में 10 लाख पेड़ लगाने का प्रण लिया गया !

Eco Sikh

प्रारंभ से ही ईकोसिख, संयुक्त राष्ट्र के साथ साथ अमेरिका के वाईट-हाउस, वर्ल्ड बैंक और बहुत से अंतर्राष्ट्रीय पर्यावरण कमेटियों/संस्थाओं के साथ मिल कर दिल्ली में कलाईमेट चेंज जैसे भयावय मुद्दों पर कार्य कर रही है ! ईकोसिख, 2009 से ही 14 मार्च, “सिख्ख पर्यावरण दिवस” के द्ववारा सिख्ख भाईचारे को पर्यावरण से जोड़ने का कार्य कर रही है ! इस साल 2018 को करीब 5500 गुरुद्वारों, स्कूलों, कालजों और बहुत से संस्थानों ने इस दिन को मनाया !
ईकोसिख, के प्रधान डाक्टर राजवंत सिंघ ने प्रेस को संबोधित करते हुए कहा, “गुरु नानक ने हर मनुष्य को कुदरत से प्रेम तथा सत्कार से रहने का सन्देश दिया है, हम सिर्फ उनकी शिक्षाओं का प्रचार कर भारत, पंजाब एवं अनेकों देशों के लोगों के कुदरत के साथ जोड़ने का यत्न कर रहे हैं !”
उन्होंने कहा “दिल्ली, पंजाब और भारत के और शहरों को वायु प्रदुषण तथा वृक्षों की कटाई भयानक नतीजों की सामना करना पड़ रहा है! केरला की बाढ़ भी वृक्षों की कटाई का जीता-जागता ताज़ा नमूना है ! भारत में केवल 21% जंगल क्षेत्र है और पंजाब में 4% जंगल क्षेत्र के कारण दुःख भोग रहा है ! इस कारण भी भारी मात्रा में पेड़ लगाना एक जरूरत भी है और यह धार्मिक सेवा भी माना जाना चाहिए !
ईकोसिख द्वारा इस मुहीम में भाग ले रहे नागरिकों को ज्यादा जानकारी देने के लिए और प्रोजेक्ट की रिपोर्ट को एकत्रित करने के लिए एक मोबाईल एप भी बनाई जा रही है, जिसको ईकोसिख द्वारा 2019 के अंत में संयुक्त राष्ट्र को पेश किया जाएगा ताकि विश्वस्तर पर सिख्खों के इस सेवाकार्य को प्रदर्शित किया जा सके !
वर्णीय है की 20 अगस्त, 2018 को ईकोसिख ने मोगा, पंजाब में गुरु नानक के चरणों का स्पर्श प्राप्त गाँव, पत्तो हीरा सिंघ में “गुरु नानक बाग़” का उद्घाटन भी किया है, जहाँ 5 किल्ले जमीन पर गुरु ग्रन्थ साहिब में दर्ज 13 किस्मों के वृक्ष लगाए गए हैं !
“ईकोसिख भारत के प्रोजेक्ट मैनेजर, रवनीत सिंघ ने कहा, “इस मुहीम में अब तक 50 गाँव-शहरों में 500 से ज्यादा सेवादारों द्वारा पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, जम्मू-कश्मीर, करनाल, आसाम, छत्तीसगढ़ तथा विदेशों में डर्बी,हांगकांग, वाशिंगटन आदि में वृक्ष लगाए जा रहे हैं!
ईकोसिख द्वारा पंजाब के माननीय पर्यावरण प्रेमी डाक्टर बलविंदर सिंघ लख्खेवाली द्वारा लिखित किताब, “श्रेणी अनुसार रुख्खो दी व्योंत्बंदी” को भी जनतक किया गया, ताकि नागरिकों को वृक्ष लगाने सम्बन्धी जानकारी में वृद्धि की जा सके ! इस किताब को जल्दी ही हिंदी और अंग्रेजी में भी रिलीज़ किया जाएगा!”, रवनीत सिंघ ने कहा !
ईकोसिख दिल्ली के कोआर्डिनेटर गगनदीप सिंघ ने गुरु नानक देव जी के 550वें गुरपुरब पर नौजवाओं को आमंत्रित करते हुए कहा, “दिल्ली में वायु-प्रदुषण के कारण लाखों ही प्राणी फेफड़ों के रोगों का शिकार हो रहे है! इस कारण यह जरूरी है की गुरु नानक के उपदेशों को माना जाए और जनता के लिए ताज़ी और साफ़ हवा मुहैया करवाई जा सके !
ईकोसिख के बोर्ड मेंबर मोहन सिंघ ने फरीदाबाद के निवासियों के संगठन के साथ मिल कर गुरु नानक देव जी के 550 वें गुरपुरब को समर्पित 550 वृक्ष लगाने का ऐलान किया और भारत के और भी शहरो में भी इस बारे में प्रचार करने का फैसला सुनाया !
पाकिस्तान में भी ईकोसिख द्वारा गुरु नानक देव जी से सम्बंधित स्थानों पर 550 वृक्ष लगाने का ऐलान किया गया !
पंजाब के मुख्य मंत्री को भी संस्था द्वारा, 100 एकड़ जमीन पर गुरु नानक को समर्पित पवित्र-वन लगाने का निमंत्रण भेजा गया है !